मुजफ्फरपुर****मुख्यमंत्री मत्स्य विकास परियोजना अंतर्गत अति पिछड़े एवं अनुसूचित जाति के लाभुकों के बीच वाहन वितरण का आयोजन

0
122

*मुख्यमंत्री मत्स्य विकास परियोजना अंतर्गत अति पिछड़े एवं अनुसूचित जाति के लाभुकों के बीच वाहन वितरण का आयोजन
**************************************

 

दिनांक-21 मई 2022

 समाहरणालय / मुजफ्फरपुर : मत्स्य विभाग द्वारा मुख्यमंत्री मत्स्य विकास योजना अंतर्गत अनुसूचित जाति एवं अति पिछड़ा जाति के मत्स्य पालकों को मत्स्य विपणन हेतु विभाग द्वारा चयनित मत्स्य बिक्री कार्य एवं मत्स्य पालन से जुड़े मत्स्य कृषकों को फोर व्हीलर, थ्री व्हीलर एवं मोपेड-सह-आइस बॉक्स का वितरण कार्यक्रम का  आयोजन किया गया।

 

 

 

 

जिलाधिकारी मुजफ्फरपुर द्वारा लाभुकों को वाहन की चाभी सौंपी गई। साथ ही हरी झंडी दिखाकर उन्हें क्षेत्र में रवाना भी किया गया।

 

 

मौके पर उपस्थित जिलाधिकारी प्रणव कुमार ने कहा कि इस योजना का मुख्य उद्देश्य अनुसूचित जाति एवं अति पिछड़ा वर्ग के लोगों को मत्स्य विपणन की योजना से जोड़कर आर्थिक रूप से सशक्त एवं स्वरोजगार के नए अवसर को प्रदान करना,  उन्होंने कहा सरकार के इस कदम से मत्स्य कृषक आर्थिक रूप से सबल हो सकेंगे, स्वावलंबी हो सकेंगे।

 

 

 

 

 

उनके जीवन में आर्थिक समृद्धि  भी आएगी। साथ ही सरकार द्वारा मत्स्य कृषकों की आय को दोगुना करने में इस व्यवसाय को प्रमुख कड़ी के रूप में लाना एवं अनुसूचित जाति एवं अति पिछड़े वर्ग के कृषक बंधुओं को आर्थिक एवं सामाजिक सुरक्षा को सुनिश्चित कर समाज की मुख्यधारा से जोड़ना भी इसका उद्देश्य है।

 

 

 

 

 मत्स्य विपणन विपणन की योजना के तहत आज अति पिछड़ा जाति के कुल 14 चयनित लाभुकों को मोपेड-सह- आइस बॉक्स, 02 को फोर व्हीलर, 04 को थ्री व्हीलर तथा अनुसूचित जाति के चयनित कुल 3 लाभुकों को मोपेड -सह- आइस बॉक्स, 04 को  थ्री व्हीलर एवं 02 को फोर व्हीलर जिलाधिकारी महोदय मुजफ्फरपुर के द्वारा प्रदान किया गया। लाभुकों को उक्त वाहन 90% अनुदानित दर पर दिए गए हैं।

 

 

 

 

 इस मौके पर अति विशिष्ट अतिथि के रूप में उप मत्स्य निदेशक तिरहुत प्रमंडल, जिला जनसंपर्क अधिकारी मुजफ्फरपुर ,जिला मत्स्य पदाधिकारी-सह-मुख्य कार्यपालक पदाधिकारी  मुजफ्फरपुर उपस्थित थे।

 

 

शांति मुकुल / ब्यूरो चीफ /इंडियन टीवी न्यूज
मुजफ्फरपुर , बिहार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here