हाथरस 03 जून, 2022 (सू0वि0)। कन्या जन्म को सकारात्मक दिशा प्रदान कर रही मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना। छह चरणों में बेटियों को प्रदान की जाती है रु0 15000 की धनराशि।

0
103

हाथरस 03 जून, 2022 (सू0वि0)। कन्या जन्म को सकारात्मक दिशा प्रदान कर रही मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना। छह चरणों में बेटियों को प्रदान की जाती है रु0 15000 की धनराशि।

 

 

 

आज दिनांक 3 जून 2022 को विकास भवन के सभागार कक्ष में जिलाधिकारी रमेश रंजन द्वारा दिए गए निर्देशों के क्रम में मुख्य विकास अधिकारी साहित्य प्रकाश मिश्र की अध्यक्षता में मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना की समीक्षा बैठक का आयोजन किया गया जिसमें समस्त संबंधित विभागीय अधिकारियों के साथ साथ प्राइवेट मेटरनिटी होम संचालकों द्वारा भी प्रतिभाग किया गया।

 

 

 

 

बैठक में मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के विषय में विस्तार पूर्वक जानकारी प्रदान की गई। मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना अंतर्गत रू0 15000 की धनराशि 6 चरणों में प्रदान की जाती है प्रथम श्रेणी बालिका के जन्म होने पर रू0 2000 द्वितीय श्रेणी बालिका के टीकाकरण पूर्ण होने पर रू0 1000 तृतीय श्रेणी कक्षा 1 में दाखिला लेने पर रू0 2000 चतुर्थ श्रेणी कक्षा 6 में दाखिला लेने पर रू0 2000 पंचम श्रेणी कक्षा 9 में दाखिला लेने पर रू0 3000 षष्टम श्रेणी 10वीं या 12वीं के बाद किसी भी प्रकार के डिग्री या डिप्लोमा में दाखिला लेने पर रू0 5000 की धनराशि प्रदान की जाती है।

 

 

 

बैठक को संबोधित करते हुए मुख्य विकास अधिकारी द्वारा बताया गया कि इस योजना का मुख्य उद्देश्य कन्या भ्रूण हत्या को समाप्त करना, समान लैंगिक अनुपात स्थापित करना, बाल विवाह जैसी कुप्रथा को रोकना, बालिकाओं के स्वास्थ्य शिक्षा को प्रोत्साहन बालिकाओं को स्वावलंबी बनाने में सहायता प्रदान करना एवं बालिका के जन्म के प्रति समाज में सकारात्मक सोच विकसित करना है। प्राइवेट होम संचालकों को पहली एवं दूसरी बेटी के अभिभावकों को योजना से लाभान्वित कराने साथ ही लंबित आवेदनों की जांच संबंधित अधिकारियों द्वारा अतिशीघ्र किये जाने एवं अधिकधिक बालिकाओं को योजना से जोड़ने हेतु निर्देशित किया गया।

 

 

 

 

जिला प्रोबेशन अधिकारी आर0के0सिंह द्वारा अवगत कराया गया कि अभी तक उक्त योजनांतर्गत 9,344 बालिकाओं को लाभान्वित किया जा चुका है साथ ही आशा, आंगनवाड़ी, ग्राम प्रधानों एवं स्कूलों के माध्यम से प्रचार प्रसार किया जा रहा है। महिला कल्याण अधिकारी श्रीमती मोनिका गौतम द्वारा योजना के विषय मे विस्तार से बताते हुए आवेदन की प्रक्रिया के विषय मे बताया गया।
इस अवसर पर डॉ0मधुर कुमार अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी, प्राचार्य जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान, जिला विद्यालय निरीक्षक, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी एवं नर्सिंग होम्स से आये हुए चिकित्सक उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here