मंदसौर/गोद ली मासूम का बेरहमी से पीट पीट कर दिया बद से बदतर हाल,सौतेली मां दो सालो से दे रही थी मासूम को यातनाएं वायरल वीडियो ने खोली महिला की करतूत की पोल,पुलिस ने मासूम को किया चाइल्ड लाइन के सुपुर्द।

0
78

गोद ली मासूम का बेरहमी से पीट पीट कर दिया बद से बदतर हाल,सौतेली मां दो सालो से दे रही थी मासूम को यातनाएं

वायरल वीडियो ने खोली महिला की करतूत की पोल,पुलिस ने मासूम को किया चाइल्ड लाइन के सुपुर्द।

आशीष चावड़ा,जिला ब्यूरो चीफ,मंदसौर

 

 

 

 

मंदसौर/पिपलिया मंडी। मामला पिपलिया मंडी थाना क्षेत्र के गांव गुड भेली का है जहा का एक वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हुआ जिसकी जानकारी पुलिस को मिली,पुलिस ने जब वायरल वीडियो को देखा तो उसमें एक महिला अपने घर की छत पर एक मासूम बच्ची को बेरहमी से हाथो से और लातो लातों से पीटती दिख रही थी,पुलिस ने वायरल वीडियो को देखने के बाद गंभीरता से वीडियो की पड़ताल में जुट गई की ये वीडियो कहा का है इसकी जानकारी निकाली,जानकारी अनुसार वायरल वीडियो पिपलिया मंडी के गांव गुड़ भैलि का निकला जानकारी निकलने के बाद वीडियो की सत्यता जानने के लिए पिपलिया मंडी चौकी प्रभारी राकेश चौधरी ने अपने दल को गांव गुड भेलि भेजा और वहा जाकर उक्त वीडियो के बारे में पता लगाया तो वीडियो गुड भैली के एक परिवार का निकला,मामले में वायरल वीडियो एक सौतेली मां का निकला जिसमे एक बच्ची को गोद ले रखा था जिसकी उम्र 7 वर्ष है लेकिन सौतेली मा ने बच्ची को जानवरो जैसे रख रखा था मासूम की उम्र 7 वर्ष लेकिन उससे सौतेली मा जानवरो ज्यादा बुरा बर्ताव कर रखा था जिसके चलते गांव वालो ने उसका वीडियो बनाकर वायरल कर दिया।

 

 

 

 

 

बच्ची ने डरी सहमी हालत में पुलिस को बताया कि मा मुझसे झाड़ू पोछा,घर के बर्तन,कपड़े धुलवाना सभी काम ऐसे ही मार पिट करके करवाती है 2 वर्षो से ऐसी यातनाएं देती आ रही है बच्ची को पुलिस ने अपना घर के सुपुर्द किया है वहीं बाल कल्याण समिति ने आरोपी मा पर कठोर कार्यवाही करने की बात पुलिस के सामने कहीं है।
समिति के अध्यक्ष शंकर डोडिया ने बताया कि
मामला मंदसौर के पिपलिया मंडी के गुड़भेली गांव
का है, जहां रहने वाली 7 साल की बच्ची से उसकी
सौतेली मां संगीता बहुत ज्यादा काम करवाती थी
और बहुत यातनाएं भी देती थी। डोडिया का कहना
है कि परिवार ने बच्ची को गोद लिया है या फिर उसे
खरीदकर लाए हैं, अभी इस बात का पता कर रहे हैं

 

 

 

 

 

 ।
मां इसे बुरी तरह से पीटती थी। ग्रामीणों ने इसका
वीडियो बनाकर पुलिस को सूचना दी, जिसके बाद
पुलिस ने बच्ची को बाल कल्याण समिति को सौंप
दिया। हम उसके पुनर्वास की व्यवस्था कर रहे हैं ।
बच्ची को चाइल्ड लाइन ने अपना घर भेजा है। बच्ची
काफी कमजोर है। सौतेली मां के खिलाफ कार्रवाई के
लिए भी CWC (चाइल्ड वेलफेयर कमिटी) ने लिखित
आवेदन दिया है।
बच्ची को अपने साथ लेकर पहुंचे राज नागदा ने बताया कि बच्ची के साथ मारपीट का वीडियो गांव के ही कमलेश जैन द्वारा बनाया गया है। उन्होंने गांव के सोशल मीडिया ग्रुप पर यह वीडियो डाल दिया। बच्ची
मारपीट करने वाली महिला की सगी बच्ची नहीं है। दो
साल से वह उसे प्रताड़ित कर रही थी। उसे जानवरों
जैसे मारा जाता था। जिसे हम बच्ची को लेकर चौकी पहुंचे।
पिपलिया मंडी चौकी प्रभारी राकेश चौधरी ने जानकारी देते हुए बताया कि वीडियो में बच्ची के साथ मारपीट करती नजर आ रही महिला का नाम संगीता है। प्रारंभिक पड़ताल में सामने आया है कि महिला ने बच्ची को कहीं से गोद लिया है। बच्ची की उम्र करीब 7 साल है। पुलिस केसामने महिला गिड़गिड़ाते हुए खुद को बेकसूर बताने लगी। महिला पर कार्रवाई करवाने ने के लिए कई ग्रामीण भी थाने पहुंचे। ग्रामीणों ने बताया कि महिला पिछले दो सालों से बच्ची के साथ ऐसा ही बर्ताव कर रही है ।पिपलिया मंडी पुलिस ने मासूम को चाइल्ड लाइन के सुपुर्द कर दिया है। अब वह बच्ची सुरक्षित है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here