डिंडौरी म प्र………. सोशल मीडिया पर प्यार, शादी फिर धोखा:फेसबुक से शुरू हुई बातचीत, पुलिसकर्मी ने प्रपोज कर किया शारीरिक शोषण, नौकरी बचाने के लिए की झूठी शादी

0
103

डिंडौरी म प्र……….
सोशल मीडिया पर प्यार, शादी फिर धोखा:फेसबुक से शुरू हुई बातचीत, पुलिसकर्मी ने प्रपोज कर किया शारीरिक शोषण, नौकरी बचाने के लिए की झूठी शादी

 

 

 

डिंडौरी। रक्षित निरीक्षक केंद्र में तैनात पुलिसकर्मी पर एक महिला ने शादी का वादा कर शारीरिक शोषण का आरोप लगाया है। महिला ने बताया कि फेसबुक से दोस्ती हुई थी। उसने प्रपोज कर शारीरिक संबंध बनाए। मैंने जब शादी के लिए कहा तो मारने की धमकी देने लगा। महिला की शिकायत पर आरोपी गिरफ्तार हो गया। आरोपी ने अपनी नौकरी बचाने के लिए महिला के साथ झूठी शादी की थी।

 

 

 

 

 

फेसबुक से दोस्ती प्यार में बदली

पीड़िता ने बताया कि रक्षित केंद्र में तैनात पुलिसकर्मी सुमेरी से मेरी दोस्ती फेसबुक के जरिए हुई थी। हम दोनों एक ही जाति के होने के कारण फोन पर बातचीत शुरू कर दी। कुछ समय बाद सुमेरी ने मुझसे प्यार का इजहार किया। 5 जून 2018 को हम दोनों पहली बार डिंडौरी में मिले। पहली मुलाकात में उसने मुझे शादी का वादा किया। यहीं पर उसने मेरे साथ शारीरिक संबंध बनाए। उसने मेरा तीन बार गर्भपात भी कराया। हमारे बीच सब कुछ ठीक था और मिलने का भी सिलसिला जारी था। 23 दिसंबर 2019 को मैंने उससे कहा कि मुझसे शादी कब करोगे, तो वह मुझसे विवाद करने लगा।यहां तक की मुझे जान से मारने की धमकी भी दी।

पुलिस ने गिरफ्तार कर भेजा जेल

पीड़िता 8 जनवरी 2020 में सिटी कोतवाली में शादी के नाम पर शारीरिक शोषण की शिकायत लेकर पहुंची। सिटी कोतवाली पुलिस ने उसे वहां से भगा दिया। पीड़िता ने 16 जनवरी को सीएम हेल्पलाइन में शिकायत दर्ज करवा दी। सिटी कोतवाली पुलिस ने 23 जनवरी 2020 को पुलिसकर्मी सुमेरी मोरप्पा के खिलाफ 376, 376 (2)(N), 506 का अपराध दर्ज कर लिया। आरोपी पुलिसकर्मी एक महीने तक फरार रहा। 23 फरवरी 2020 को आरोपी को जबलपुर से गिरफ्तार कर लिया गया और उसे 24 फरवरी को जेल भेज दिया।

जेल से छूटने के बाद किया संपर्क

पीड़िता ने बताया कि पुलिसकर्मी सुमेरी ने जेल से छूटने के बाद फिर संपर्क किया। वह कहने लगा कि मैं बदल गया हूं, तुमसे प्यार करता हूं। मैंने उसकी बात नहीं मानी तो आरोपी ने 13 जनवरी 2021 को मेरी अश्लील फोटो वॉट्सऐप पर वायरल कर दी। इसके बाद मैंने फिर 14 जनवरी 2021 को पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई। पुलिस ने 354, 66 आईटी एक्ट में अपराध दर्ज कर 15 जनवरी 2021 को जेल भेज दिया।

जेल से निकलने के बाद दोस्तों के सामने की शादी

पीड़िता ने बताया कि जेल से छूटने के बाद सुमेरी ने फिर अपने दोस्त और मुंह बोली बहन के साथ मिलकर मुझसे संपर्क किया। उसके दोस्तों और मुंह बोली बहन ने कहा कि इसकी नौकरी बचा लो। ये तुमसे शादी कर साथ में रखेगा। शादी की सुनकर मैं मान गई। हमने डिंडौरी स्थित साईं मंदिर में 24 फरवरी को दोस्तों की मौजूदगी में विवाह किया। उसने मुझे माला पहनाकर अपनी पत्नी बना लिया। कुछ दिन तक मैं उसके साथ डिंडौरी में साथ में रही। उसने मुझसे न्यायालय में बयान बदलवा दिया। मैंने भी सोचा कि अब पत्नी बन गयी हूं, इसलिए मैंने न्यायालय में रजामंदी कर ली। सुमेरी मररपा को नौकरी वापस मिल गई। कुछ ही दिनों बाद इसने मुझे घर से निकाल दिया और दूसरी शादी कर ली।

दोनों पक्षों को सुन तथ्यों के साथ होगी कार्रवाई

इस मामले में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक जगन्नाथ सिंह ने कहा कि दोनों पक्षों को सुना जा रहा है। जो भी तथ्य सामने आएंगे, उसके हिसाब से कार्रवाई की जाएगी।

इंडियन टीवी न्यूज़ संवाददाता मो0 सफर ज़िला डिंडोरी मध्य प्रदेश

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here